प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने की घोषणा, कहा- देश महामारी की घातक लहर का सामना कर रहा है | Israel is facing deadly wave of corona pandemic: PM



डिजिटल डेस्क, तल अवीव। इजरायल कोरोना महामारी की घातक लहर का सामना कर रहा है, जो ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले फैलने से शुरू हुई है। ये सूचना प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बेनेट के हवाले से राज्य के स्वामित्व वाले कान बेट रेडियो के हवाले से कहा, हम संक्रमण के उच्च स्तर को देख रहे हैं, जो हमने पहले इजरायल में कभी नहीं देखा है। उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन वेरिएंट असामान्य रूप से संक्रामक है।

प्रधानमंत्री ने कहा, हम कोरोना संक्रमण की आंधी फैलने से बस एक पल दूर हैं और जब ऐसा होगा तब हम इससे बच नहीं पाएंगे। यह टिप्पणी तब आई जब कैबिनेट ने बड़ी दुकानों पर ग्रीन पास योजना लागू करने सहित कड़े प्रतिबंध लागू किए हैं। यह योजना सिर्फ टीका प्राप्त लोगों को कुछ सार्वजनिक स्थानों में प्रवेश करने की अनुमति देती है। इजरायल की आबादी 92 लाख है। देश ओमिक्रॉन वेरिएंट के कारण महामारी की पांचवीं लहर का सामना कर रहा है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में बीते 24 घंटे में ओमिक्रॉन वेरिएंट के 623 नए मामले सामने आए हैं। मंत्रालय ने कहा कि इजरायल में ओमिक्रॉन मामलों की कुल संख्या अब 1,741 हो गई है, जिनमें से 1,004 मामले बाहर से आए हैं। ओमिक्रॉन से संक्रमित 8 लोग इस समय अस्पताल में भर्ती हैं और उनमें से एक की हालत गंभीर है क्योंकि उसे टीका नहीं लगा है। मंत्रालय ने कहा, एक 84 वर्षीय महिला की मौत हुई है, जिसे कोरोना वैक्सीन की तीन खुराकें मिली थी। उसका ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर संदेह है।

इसके अलावा, पूरे इजरायल में 19 जगहों पर ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले सामने आए हैं। साल 2020 में महामारी की शुरूआत के बाद से इजरायल में कोरोना के कुल 1,371,007 मामले सामने आए जबकि 8,243 मौतें दर्ज की गई हैं।

(आईएएनएस)



Source link

Leave a Reply