तालिबान सैनिकों ने सीमा पर बाड़ हटाने की कोशिश की | Taliban soldiers try to remove border fence, Pakistan worried



डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पाकिस्तान ने सीमा के पास बार-बार होने वाली घटनाओं पर तालिबान के नेतृत्व वाली अंतरिम अफगान सरकार को उच्चतम स्तर पर अपनी चिंताओं से अवगत कराया है, जहां कुछ स्थानीय सैनिकों ने सीमा पर बाड़ हटाने की कोशिश की थी। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट से यह जानकारी मिली।

अफगान तालिबान नेतृत्व को बताया गया कि पाकिस्तान तनाव में किसी भी तरह की वृद्धि से बचने के लिए अधिकतम संयम बरत रहा है।

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने सूत्रों के हवाले से बताया कि फिर भी, पाकिस्तान द्वारा 24 घंटे के भीतर इस मुद्दे पर औपचारिक बयान जारी करने की उम्मीद है।

हाल के हफ्तों में, पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा पर बार-बार ऐसी घटनाएं हुई हैं, जहां कुछ स्थानीय तालिबान सैनिकों ने बाड़ हटाने की कोशिश की थी।

पहली घटना 18 दिसंबर, 2021 को हुई थी।

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट में कहा गया है कि सोशल मीडिया पर प्रसारित एक वीडियो में तालिबान सैनिकों को कंटीले तारों के स्पूल जब्त करते हुए और सुरक्षा चौकियों पर तैनात पाकिस्तानी सैनिकों को फिर से सीमा पर बाड़ लगाने की कोशिश नहीं करने की चेतावनी देते हुए दिखाया गया है।

रविवार को सोशल मीडिया पर एक और वीडियो शेयर किया गया, जिसमें तालिबान लड़ाके एक के बाद एक ट्रक से पोल तोड़ते दिख रहे हैं।

काबुल न्यूज के अनुसार, एक वीडियो बयान में अफगान रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि वे बाड़ लगाने की अनुमति नहीं देंगे क्योंकि यह सीमा के दोनों ओर परिवारों को विभाजित करता है। इस टिप्पणी पर पाकिस्तान की ओर से कोई औपचारिक प्रतिक्रिया नहीं आई है।

पाकिस्तान के आकलन के मुताबिक, कुछ स्थानीय तालिबान कमांडर हैं, जो पाकिस्तानी सेना को उकसा रहे हैं।

अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान अधिकतम संयम बरत रहा है। एक अधिकारी ने दावा किया कि अफगान तालिबान नेतृत्व भी अपने निचले स्तर के सैनिकों के आचरण के बारे में चिंतित है क्योंकि वे इस कठिन समय में पाकिस्तान के सहयोग के महत्व को समझते हैं।

अधिकारी ने यह भी कहा कि तस्कर जैसे अन्य तत्व भी हैं जो स्थिति का फायदा उठाने की कोशिश कर रहे होंगे।

अधिकारी ने कहा, इसीलिए हम स्थिति को सावधानी से संभाल रहे हैं।

लेकिन पाकिस्तान एक औपचारिक बयान में यह स्पष्ट कर सकता है कि सीमा पर कोई समझौता नहीं होगा क्योंकि यह एक सुलझा हुआ मुद्दा है।

रिपोर्ट के मुताबिक, फेंसिंग का काम भी जारी रहेगा।

 

आईएएनएस



Source link

Leave a Reply